क्‍या आपको आते हैं सेक्‍स के सपने?

 
क्‍या आपको यौन क्रियाओं के स्‍वप्‍न आते हैं? क्‍या आप सपने में किसी से यौन संबंध स्‍थापित करते हुए देखते हैं? या फिर सपने में यौन गतिविधियों में शामिल होने पर आपका वीर्य स्‍वत: प्रवाहित हो जाता है? अगर हां, तो घबराने की बात नहीं है।

ऐसा किसी के साथ भी हो सकता है। लेकिन कई बार आपके सपने आपके व्‍यवहार के विपरीत आते हैं, जिस कारण आप तनाव में पड़ सकते हैं। जैसे यदि आप समलैंगिकता से घृणा करते हैं, फिर भी आप सपने में देखते हैं, कि आप समलैंगिक संबंध स्‍थापित कर रहे हैं। कई लोग ऐसे सपनों से परेशान हो जाते हैं, वहीं कई ऐसे भी होते हैं, जा जीवन के इस दौर को खुलकर एंज्‍वॉय करते हं। लेकिन प्रश्‍न यह है कि आखिर सेक्‍सुअल ड्रीम्‍स यानी सेक्‍स के सपने हमें क्‍यों आते हैं।

असल में हमारे अवचेतन मन में दिन भर विभिन्‍न प्रकार की गतिविधियां होती रहती हैं। जिसके कारण हमें ऐसे सपने आते हैं। मनुष्‍य जितने भी काम करता है, उसमें सेक्‍स उसके मन पर सबसे शक्तिशाली प्रभाव डालता है।

सपने जो आपकी सोच बताएं

ऐसे में यदि आप कोई भी काम करते वक्‍त सेक्‍स के बारे में सोचते हैं, या फिर किसी स्‍त्री को देखकर आपके मन में यौन संबंधी खयाल आते हैं, तो जाहिर है उसका प्रभाव आपके मस्तिष्‍क पर जरूर पड़ता है। चूंकि सपनों को हम सेंसर नहीं कर सकते इसलिए वही बातें सपने में आना कोई बड़ी बात नहीं है। वैज्ञानिकों के मुताबिक हम सोते वक्‍त सपने में वही देखते हैं, जो हम जागते वक्‍त सोचते हैं।

इसके विपरीत कुछ ऐसे सपने भी हैं, जो आपके अंदर सेक्‍स की प्रवृत्ति को दर्शाते हैं। वो ऐसे कि यदि कोई पुरुष सपने में कोई बड़ी टननेल, सबवे या फिर गहरी खाई देखते हैं तो निश्चित तौर पर वे सेक्‍स के प्रति काफी रुझान रखते हैं। सेक्‍स के प्रति गहराई से सोचते भी हैं। इसी प्रकार सेक्‍स के प्रति ललक रखने वाली स्त्रियों को सपने में अकसर रॉकेट, सिगार या कोई ऊंची चिमनी दिखाई देती है।

सपने में रति-निष्पत्ति

आमतौर पर पुरुषों में यह बात आम है, कि सपने में वे सेक्‍स के चरम आनंद पर पहुंच जाते हैं और उसी दौरान उनका वीर्य प्रवाहित हो जाता है। ऐसा महिलाओं के साथ भी होता है। स्त्रियां इस बारे में बहुत काम बात करती हैं।

ऐसा उन्‍हीं स्त्रियों के साथ होता है, जो सेक्‍स के प्रति हाईली चार्ज होती हैं। यानी जिनके अंदर सेक्‍स करने की ललक बहुत अधिक होती है। सेक्‍स से भरे सपने के दौरान ऐसी स्त्रियां चरम पर पहुंच जाती हैं। और नींद में ही उनकी ऊर्जा प्रवाहित हो जाती है।

वहीं पुरुषों में ऐसा सबसे ज्‍यादा किशोरावस्‍था में होता है। सपने में किसी स्‍त्री से सेक्‍स करते वक्‍त जब उत्‍तेजना अपने चरम पर पहुंच जाती है, तब वीर्य प्रवाहित हो जाता है। ज्‍यादा तर लोग इसे स्‍वप्‍नदोष, कामुक सपने, गीले सपने, आदि कहते हैं। पुरुषों के साथ सबसे बड़ी समस्‍या यह है कि गीले सपने के दौरान अधिक मात्रा में वीर्य निकलता है। जिस कारण बेड की चादर गंदी हो जाती है।

क्‍या कहते हैं सेक्‍सोलॉजिस्‍ट

सेक्‍सोलॉजिस्‍ट की मानें तो ऐसे सपनों को लेकर परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है। युवा अवस्‍था में लोग अपने दोस्‍तों और साथियों से सुनते हैं कि गीले सपने आने से वीर्य का प्रवाह स्‍वास्‍थ्‍य के लिए हानिकारक है। इससे हड्डियां कमजोर हो जाती हैं। इससे कमजोरी आती है। आंखें अंदर धंस जाती हैं। इससे उम्र कम होती है... लेकिन सही मायने में यह सब बातें पूरी तरह निराधार हैं। ऐसा कुछ भी नहीं होता। असल में गीले सपने शरीर की एक प्राकृतिक प्रतिक्रिया है, जो हारमोंस के बढ़ने पर होती है। ठीक उसी प्रकार जिस तरह महिलाओं में मासिक धर्म होता है। सपने में आप चाहे सेक्‍स करते हुए देखें, या फिर यौन संबंध स्‍थापित करते हुए। चाहे ही आप सेक्‍स के चरम तक पहुंच जाए। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता।

यदि आप इस प्रकार के सपनों से वाकई में बहुत परेशान हैं, तो आप चिकित्‍सक की सलाह ले सकते हैं। हालांकि इसके पीछे मनोवैज्ञानिक कारण ज्‍यादा प्रभावी होते हैं, न कि शारीरिक। यही कारण है कि किशोरावस्‍था पूरी करने के बाद अपने आप ही गीले सपने आना बंद हो जाते हैं। उसका मुख्‍य कारण यही है कि आमतौर पर व्‍यक्ति इस अवस्‍था में ही सेक्‍स के बारे में सबसे ज्‍यादा सोचता है और आकर्षित होता है। जब जिम्‍मेदारियां बढ़ती हैं और ध्‍यान दूसरी ओर लग जाता है, तो अपने आप ऐसी प्रतिक्रियाएं बंद हो जाती हैं।

Read more about: सेक्‍स, संभोग, कामसूत्र, यौन संबंध, कंडोम, sex, condom, kamasutra, relationship
Story first published: Thursday, December 3, 2009, 15:57 [IST]
Please Wait while comments are loading...