गर्भपात की गोलियों की ऑनलाइन बिक्री

 
विश्‍व के 70 देश जहां गर्भपात प्रतिबंधित है, वहां महिलाएं इंटरनेट के माध्‍यम से चिकित्‍सीय सेवाएं ले रही हैं। ताजा अध्‍ययन में पता चला है कि गर्भपात के लिए दी जाने वाली गोलियों की ऑनलाइन बिक्री हाल के दिनों में तेजी से बढ़ी है।

महिलाओं के यौन जीवन पर आधारित वेबसाइटों पर इन दिनों गर्भपात की गोलियों का खुलकर प्रचार हो रहा है। इसके चलते महिलाएं व लड़कियां जो गर्भवती होने के बाद भी बच्‍चा नहीं चाहती हैं, वे इसका खूब फायदा उठा रही हैं।

ब्रिटिश जर्नल ऑफ ऑब्‍टेटिक्‍स एण्‍ड गाइनाकोलॉजी की एक रिपोर्ट में ऑनलाइन पिल्‍स खरीदने वाली 400 महिलाओं व युवतियों से बातचीत की गई। उनमें से 58 प्रतिशत ने गर्भपात की ऑनलाइन विधि का समर्थन किया और इंटरनेट पर ऐसी जानकारियां होने पर खुशी जताई। वहीं 31 प्रतिशत ने कहा कि इसमें खतरा जरूर है, लेकिन फायदे बहुत हैं।

पढ़ें- गर्भधारण के लिए कैसे करें सेक्‍स

उसमें पता चला कि उनमें से 11 प्रतिशत महिलाओं को ऑनलाइन मेडिकेशन के बाद सर्जरी करानी पड़ी। इससे यह साफ हो गया है कि ऐसी वेबसाइट स्त्रियों को बहकाने का काम कर रही हैं। यह एक चिंता का विषय भी है।

हालांकि वेबसाइट का दावा है कि वे असुरक्षित गर्भपात से बचने में महिलाओं व युवतियों की मदद कर रही है। वेबसाइट के माध्‍यम से स्‍वयं का गर्भपात करने वाली महिलाओं में 8 प्रतिशत ऐसी थीं, जिन्‍होंने वेबसाइट के सभी निर्देशों को ठीक से पालन नहीं किया।

जिस कारण 11 प्रतिशत महिलाओं को सर्जरी से गुजरना पड़ा। इनमें भी ज्‍यादातर महिलाएं वही थीं जिनका गर्भपात अधिक रक्‍तस्राव के कारण पूर्ण रूप से नहीं हो पाया। इसके अलावा वेबसाइट का यह भी कहना है कि गर्भपात की विधि सिर्फ उन्‍हीं को बताई गई, जिन्‍होंने अपने बताया कि उनके गर्भधारण को 9 सप्‍ताह से कम है।

Read more about: सेक्‍स, संभोग, कामसूत्र, यौन संबंध, कंडोम, sex, condom, kamasutra, relationship
Story first published: Wednesday, December 16, 2009, 15:35 [IST]
English summary
Women living in over 70 countries where abortion is restricted are using the Internet to buy do-it-yourself medication for abortions, according to a new research.
Please Wait while comments are loading...