शादी के बाद सेक्‍स

 
शादी के दिन ज्‍यादातर पुरुषों में अपने आने वाले जीवन में सेक्‍स को लेकर कई धारणाएं होती हैं। कई सवाल बार-बार मन में उठते हैं। मन में कई बातें ऐसी आती हैं, जिनके बारे में वो अपने मित्रों से भी कहने में झिझकता है। जाहिर है, नए जीवन साथी के साथ सेक्‍स मानसिक सुख देने से ज्‍यादा महत्‍वपूर्ण भूमिका दोनों के बीच संबंध प्रगाढ़ करने में निभाता है।

क्‍या आपके मन में भी सवाल घूम रहे हैं, तो चलिए हम आपको कुछ टिप्‍स देते हैं, जो जरूर आपके काम आएंगी:-

खुल कर बात करें

सबसे पहले एक बात गांठ बांध लें कि पत्‍नी किसी भी प्रकार की शुरुआत पहले नहीं करेगी, चाहे वो बातें हों या प्रेम। लिहाजा प्रेम भरी बातों की शुरुआत आपको ही करनी होगी। बात अगर सेक्‍स की आए, तो खुल कर बात करें, झिझकने की जरूरत नहीं है। सभी बातें पूरी ईमानदारी के साथ करें, कुछ भी छिपाने की जरूरत नहीं है। यदि आपकी पत्‍नी कोई बात बताती है, तो उसे समझने की कोशिश करें। चाहे वो नकारत्‍मक बात ही क्‍यों न हो। जरूरी नहीं है कि पहली रात में सेक्‍स करने से ही भविष्‍य में आपकी सेक्‍स लाइफ सुंदर होगी।

अपनी पत्‍नी के साथ सेक्‍स की शुरुआत से पहले आप उसके बारे में जानिए कि वो कहां से आयी है, क्‍या चाहती है। जरूरी नहीं है, कि जिस प्रकार की मानसिकता आप रखते हों, वैसी ही मानसिकता उसकी भी हो। आपके पास आने से पहले वो कितना थक चुकी है, इसका अंदाजा भी आपको होना चाहिए। किसी प्रकार का गुस्‍सा या नाराजगी जाहिर मत होने दें।

पत्‍नी को अपने जैसा न समझें

अपनी पत्‍नी को अपने जैसा कतई मत समझें, क्‍योंकि सेक्‍स के मामले में महिलाएं पुरुषों से कहीं अलग होती हैं। कोई भी पुरुष पंद्रह मिनट में सेक्‍स ड्राइव पूरी कर सकता है, लेकिन 75 प्रतिशत से अधिक महिलाओं को सेक्‍स की चरम सीमा तक पहुंचने में 30 से 45 मिनट तक लग जाते हैं, लिहाजा अपनी पत्‍नी की भावनाओं का खयाल रखना आपकी जिम्‍मेदारी है। पंद्रह मिनट के सेक्‍स के बाद गुडनाइट कह देने से आपका शादी-शुदा जीवन प्रभावित हो सकता है

अहम है फोरप्‍ले

यदि आपकी पत्‍नी का सेक्‍स करने का मूड नहीं है और वो इनकार कर दे, तो उसका मतलब इनकार ही समझें। हां यहां पर फोरप्‍ले काफी अहम भूमिका निभा सकता है। प्‍यार से उसे किस करें और आलिंगन करें। फिर हलके-हलके उसके शरीर पर अपने हाथों से मसाज करें और उसे प्‍यार भरी नज़रों से देखें। ऐसा करने से पत्‍नी का मूड बदल भी सकता है और आपकी रात सुहावनी हो सकती है। यदि तब भी वो सेक्‍स करने पर राजी नहीं होती है, तो यह मत सोचिए कि आपकी मेहनत बेकार गई, बल्कि इतनी देर में आपने उसे ढेर सारा प्‍यार दिया, जो उसे आपके करीब लाया।

कंडोम का प्रयोग जरूर करें

यह बात ध्‍यान रहे, कि पूरे जीवन की प्‍लानिंग एक रात में नहीं की जा सकती है, खास तौर से फैमिली प्‍लानिंग। पहली ही रात में बच्‍चे की बात करना भी उचित नहीं है, और बिना रज़ामंदी के पत्‍नी को गर्भवती करना भी गलत है, लिहाजा कंडोम का प्रयोग कर स्‍वस्‍थ्‍य सेक्‍स का आनंद प्राप्‍त करें। आपकी पत्‍नी में जब अनचाहे गर्भ का डर नहीं होगा, तो वो खुल कर आपके साथ संभोग कर सकेगी।

हर रात जरूरी नहीं है सेक्‍स

अंत में एक बात जरूर ध्‍यान रहे, वो यह कि शादी हो गई, तो इसका मतलब यह नहीं कि आप हर रात सेक्‍स करें या फिर जरूरी नहीं है, कि आपकी पत्‍नी हर रोज सेक्‍स चाहती है। वो कब सेक्‍स चाहती है, यह निर्भर उसके मूड पर करेगा, लिहाजा अपनी पत्‍नी के मूड को परखना सीखें। कभी भी उस पर सेक्‍स के लिए दबाव मत बनाएं।

Read more about: संभोग, सेक्‍स, ओरल सेक्‍स, कामसूत्र, यौन संबंध, शादी, कंडोम, sex, condom, kamasutra, relationship, oral sex, marriage, wedding
Story first published: Sunday, September 19, 2010, 14:45 [IST]
Please Wait while comments are loading...