सेक्स का ज्यादा मजा लेते हैं नास्तिक

 
शायद आप लोगों यह बात सुनने में काफी अजीब लगे मगर यह सौ फीसदी सच्‍चाई है। अमेरिका में हुए एक शोध के अनुसार वैज्ञानिकों ने हैरान करने वाला निष्कर्ष निकाला है। जिसके अनुसार धार्मिक लोगों की तुलना में नास्तिक लोग सेक्‍स का ज्‍यादा आनंद लेते हैं। इसका सबसे बड़ा कारण है लोगों के अंदर हिचकिचाहट की भावना। 

वैज्ञानिकों के अनुसार धार्मिक लोग सेक्‍स के दौरान नए प्रयोग करने से हिचकिचाते हैं और अगर वे ऐसा कर भी लेते है तो बाद में उन्‍हें उस पर काफी अफसोस होता है। जबकि इसके उलट नास्तिक लोग बेहिचक सेक्‍स का पूरा आनंद लेते हैं। शोध में यह बात भी सामने आई है कि इस दौरान वे मुख मैथुन, हस्‍त मैथुन के अलावा सेक्‍स पोजीशन जैसी कई क्रियाओं पर इंज्‍वाय नहीं कर पाते वे इन सब क्रियाओं को धर्म नीति के खिलाफ मानते हैं।

कैनसास यूनिवर्सिटी के मनोवैज्ञानिक डरैल रे और अमांडा ब्राउन ने आस्तिक और नास्तिक प्रवृति के चौदह हजार पांच सौ लोगों पर प्रयोग कर यह निर्ष्‍कष निकाला है। वैसे भी माना जाता है धर्म सेक्स में खुलेपन और असामान्य सेक्स की इजाजत नहीं देता है। हालाँकि यह शोध धार्मिक मान्यताओं से मेल नहीं खाता, किन्तु इन्हें पूरी तरह खारिज भी नहीं किया जा सकता है।

Read more about: कामसूत्र, शोध, संभोग, kamasutra, research, sex
Story first published: Thursday, November 10, 2011, 14:54 [IST]
English summary
Atheists have far better sex lives than religious people who are plagued with guilt during intercourse and for weeks afterwards, researchers have found.A study discovered that non-believers are more willing to discuss sexual fantasies and are more satisfied with their experiences.
Please Wait while comments are loading...