राशि से जानिए महिला का सेक्‍स बिहेवियर- भाग 2

 
ज्‍योतिष के मुताबिक विश्‍व में हर व्‍यक्ति पर ग्रहों का प्रभाव होता है। उसके जन्‍म स्‍थान व समय का उसके जीवन व व्‍यवहार पर सीधा असर पड़ता है। हम यहां बात करेंगे महिलाओं के सेक्‍सुअल बिहेवियर यानी महिलाओं में सेक्‍स के प्रति उत्‍साह किस तरह राशियों के साथ बदलता है।

तुला: तुला राशि वाली महिलाओं की पीठ का निचला हिस्‍सा काफी संवेदनशील होता है। तुला राशि वाली महिलाओं को सेक्‍स के लिए उत्‍तेजित करने के लिए हिप्‍स के ठीक ऊपर के भाग में स्‍पर्श करने से उत्‍तेजना पैदा होती है।

वृश्चिक: वृश्चिक राशि वाली महिलाओं योनि सेक्‍स के लिए सबसे ज्‍यादा संवेदनशील होती है। धीरे-धीरे स्‍पर्श एवं मसाज से वो बहुत जल्‍द उत्‍तेजित हो उठती हैं। यही कारण है कि वृश्चिक राशि वाली महिलाओं को सेक्‍स की चरम सीमा तक पहुंचने में काफी समय लगता है।

धनु: धनु राशि वाली महिलाएं लंबे समय तक फोरप्‍ले पसंद करती हैं। उनके लिए जांघ सबसे ज्‍यादा संवेदनशील अंग होता है। जांघ पर स्‍पर्श करने से वो काफी तेजी से उत्‍तेजित हो जाती हैं।

मकर: मकर राशि वाली महिलाओं के पैर सबसे ज्‍यादा संवेदनशील होते हैं। पैर के किसी भी भाग पर स्‍पर्श और चुंबन से वो जल्‍द उत्‍तेजित हो उठती हैं।

कुंभ: कुंभ राशि वाली महिलाओं की कोहनी और कंधे पर छोटा सा स्‍पर्श उन्‍हें उत्‍तेजित कर देता है।

मीन: मीन राशि वाली महिलाओं के पैर के निचले हिस्‍से में स्‍पर्श, चुंबन या मसाज से सेक्‍स के प्रति उत्‍तेजना बढ़ती है। धीरे-धीरे एड़ी से शुरुआत कर आप उन्‍हें संभोग के लिए आसानी से आकर्षित कर सकते हैं।

राशि और महिलाओं का 'सेक्‍स बिहेवियर' - भाग 1

Read more about: कामसूत्र, ज्‍योतिष, सेक्‍स, kamasutra, sex, astrology
Story first published: Monday, September 5, 2011, 17:00 [IST]
English summary
A sensuous lovemaking session with your woman always begins with a good foreplay. Foreplay is all about arousing and exciting your partner, beyond the point of no return. A good arousal seldom fails to give your woman a good orgasm. Here are the features about sexual behaviour of women according to their zodiac signs.
Please Wait while comments are loading...