दिल के रोगियों के लिये सुरक्षित है संभोग करना

Relationship
 
दिल के दौरे का सामना कर चुके लोगों में अधिकांश फिर से यौन संबंध कायम कर सकते हैं। अमेरिकन हार्ट एसोसियेशन ने नये दिशा-निर्देश जारी करते हुए यह खुलासा किया है। अमेरिका के अग्रणी चिकित्सकों के संगठन ने कहा है कि अगर आप चहलकदमी करने अथवा सीढि़यां चढने के बाद सीने में दर्द महसूस नहीं करते और हांफते नहीं तो आप के लिये सैक्स करना सुरक्षित है।

उन्होंने लेकिन राय दी है कि दिल के सभी मरीजों को चाहिये कि वे फिर से यौन संबंध कायम करने से पहले अपने चिकित्सकों से राय लें। हेल्थ.काम ने ह्यूस्टन में बेलर कालेज आफ मेडीसन के ग्लेन एन लेविन के हवाले से कहा कि यह देखा गया है कि दिल की बीमारी का पता लगने अथवा इलाज करा चुके मरीज और उनके साथी अक्सर फिर से यौन संबंध कायम करने को लेकर परेशान रहते हैं।

कभी तो मरीज का साथी ज्यादा परेशान नजर आता है। लेखकों के अनुसार यौन संबंध के दौरान दिल की समस्या विरल है। दिल के दौरों में यौन संबंधी गतिविधि से पडने वाला दौरा एक प्रतिशत से भी कम होता है। जो लोग नियमित तौर पर व्यायाम करते हैं उनमें तो यह संभावना और भी कम होती है। लेविन के अनुसार अधिकतर हृदयरोग विशेषग्य अपने मरीजों के साथ इस विषय को नहीं उठाते और उनकी घबराहट और अवसाद के बारे में बहुत कम पूछते हैं। पत्रिका सकर्लेसन में छपे नये दिशा-निर्देशों का कई विशेषग्यों ने समर्थन किया है।

Read more about: कामसूत्र, संभोग, kamasutra, sex
Story first published: Saturday, January 21, 2012, 13:20 [IST]
English summary
Lovemaking is safe for most heart patients. If you’re healthy enough to walk up two flights of stairs without chest pain or gasping for breath, you can have a love life.
Please Wait while comments are loading...