अलग-अलग सेक्‍स पोजिशन अपनाने से होते हैं ये 7 फायदे

सेक्‍स दो लोगों के बीच, शारीरिक सम्‍बंध होते हैं जो हर दैनिक कार्य की तरह ही होता है और उसकी जरूरत भी उतनी ही होती है। लेकिन अगर इसमें कुछ-कुछ समय पर नयापन न आएं तो जिंदगी में सेक्‍स लाइफ बोझिल हो जाती है और कोई टेस्‍ट नहीं रह जाता है।

इसके लिए सबसे अच्‍छा तरीका, पार्टनर के साथ कई तरीके की सेक्‍स पोजिशन को इस्‍तेमाल करना होता है। अगर आप लम्‍बे समय तक एक ही स्थिति में सेक्‍स करते रहेंगे तो न आपको संतुष्टि होगी और न ही आपके पार्टनर को मज़ा आएगा। इसके लिए सबसे जरूरी है कि आप अपने पार्टनर के साथ इस बारे में बात करें।

ऐसा करने से आप जब उस पोजि़शन को ट्राई करेंगे तो आपके पार्टनर भी आपके साथ कॉपरेट करेगी/करेगा। आप चाहें तो उस पोजिशन का तस्‍वीर या वीडियो भी उन्‍हें दिखा सकते हैं ताकि उन्‍हें उस बारे में अंदाजा हो जाएं और उनके मन से डर निकल जाएं।

आपको बता दें कि कई दम्‍पत्ति सिर्फ और सिर्फ मानसिक डर की वजह से सेक्‍स की पोजिशन चेंज नहीं करते हैं और एक ही तरह की सेक्‍स लाइफ को हमेशा जीते रहते हैं। आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि कई सारी सेक्‍स पोजिशन को अपनाने के क्‍या 7 फायदे होते हैं:

1. विज़ुअल परसेप्‍सन का बदलना-

1. विज़ुअल परसेप्‍सन का बदलना-

जब आप सेक्‍स को हटकर करते हैं तो पोजिशन बदलते ही आपका तरीका और पार्टनर को देखने का ढंग भी बदल जाता है। आपको किसी और एंगल से पार्टनर की बॉडी दिखती है और उसका आपको कॉपरेट करने का तरीका भी दिखाई देता है। कई बार आप जब एक कम्‍फर्ट ज़ोन को ब्रेक करते हैं तो दिक्‍कत होती है लेकिन सेक्‍स के मामले में ये बात बिल्‍कुल उलट है। बल्कि इसमें आप अपने कम्‍फर्ट ज़ोन केा ब्रेक करने के बाद और ज्‍यादा खुशी महसूस करते हैं और ज्‍यादा ऊर्जावान भी।

2. अलग भावना:

2. अलग भावना:

सेक्‍स के हर एंगल में पेनिस, वेजिना में एक अलग तरह से एंटर होता है और उसके अंदर जाने का एहसास भी अलग होता है जिससे पार्टनर को अच्‍छा महसूस होता है। वैसे तो हर महिला को रिश्‍ते बनाते हुए अलग एहसास होता है लेकिन हर पुरूष को एक को एक ही तरह का एहसास होता है इसलिए एंगल बदलने से महिलाओं से ज्‍यादा पुरूषों को नयापन मिलता है। साथ ही सेक्‍स की डिफरेंट पोजिशन से लव इंटेन्‍शिटी भी बढ़ती है और वेजिना भी फ्लेसिबल हो जाता है।

3. यौन असंगति को दूर करने में:

3. यौन असंगति को दूर करने में:

कई मामलों में ऐसा देखने को मिलता है कि पुरूष का लिंग छोटा होता है और महिला संतुष्‍ट नहीं हो पाती है, या फिर लिंग बहुत बड़ा होता है जिससे महिला को असहनीय दर्द या असहजता महसूस होती है। ऐसी स्थितियों में सेक्‍स को अलग-अलग तरीकों और एंगल से करें, जिससे सम्‍बंध बनाने में हमेशा ताजगी का एहसास होगा और दोनों को संतुष्टि मिलेगी, साथ ही किसी के मन में ग्‍लानि भी नहीं रहेगी।

 4. सेंसटिव ज़ोन्‍स की उत्‍तेजना:

4. सेंसटिव ज़ोन्‍स की उत्‍तेजना:

सेक्‍स के दौरान सेंसटिव ज़ोन को टच करना ही सबसे बड़ा प्‍लेगेम होता है। अगर आप अपने पार्टनर के सही सेंसटिव ज़ोन को जान जाएं तो आपकी मुठ्ठी में उनका प्‍यार पाना होगा। अलग-अलग पोजि़शन में सेक्‍स करने से सेंसटिव ज़ोन के बारे में पता चलता है और आपको मालूम चल जाता है कि आपके पार्टनर को सबसे अच्‍छा कहां लगता है, कहां स्‍ट्रोक दें कि उसे ऑर्गेज्‍़म हो जाएं।

 5. औरत को मिलेगा हर पल कुछ ख़ास:

5. औरत को मिलेगा हर पल कुछ ख़ास:

अलग एंगल से सेक्‍स करने से महिलाएं कभी भी सेक्‍स से बोर नहीं होंगी, उन्‍हें हर बार ऑर्गेज्‍़म होगा और वो अपने मेल पार्टनर से पूरी तरह संतुष्‍ट हो जाएंगी। आपको बता दें कि महिलाएं हर बार सेक्‍स करने के दौरान संभोग का सुख प्राप्‍त नहीं करती हैं, एेसा तभी होता है जब पेनिस उनके वेजिना में इस तरह टच करता है कि वो चरम आनंद प्राप्‍त करने लगें। लगातार एक ही स्थिति में सेक्‍स करने से वेजिना, पेनिस के हिसाब से ही सेट हो जाता है और बस वो सिर्फ एक प्रक्रिया मात्र रह जाती है जिसमें कोई सुख या आनंद नहीं रह जाता है। ऐसे में बेहतर होगा कि डिफरेंट मेथड से सेक्‍स करें, ताकि रिश्‍तों में हमेशा नयापन बना रहें।

 6. इमोशन का अलग होना:

6. इमोशन का अलग होना:

आपको जानकर आश्‍चर्य होगा लेकिन अगर आप सेक्‍स की पोजिशन बदलते हैं तो आपके इमोशन भी उसकी हिसाब से बदल जाते हैं। वाइल्‍ड सेक्‍स के शौकीन लोगों को डॉग पोजिशन ट्राई करना चाहिए, वहीं अगर आप हमेशा हिटिंग और हैवी स्‍ट्रोकिंग करते हैं तो एक बार थोड़ा फोरप्‍ले करते हुए सेक्‍स करें।

 

 

 7. सम्‍पूर्ण संभोग सुख को पाना:

7. सम्‍पूर्ण संभोग सुख को पाना:

कई पोजिशन में सेक्‍स करके महिला और पुरूष, दोनों ही सम्‍पूर्ण संभोग सुख को प्राप्‍त कर सकते हैं। ऐसा होने की वजह, पूरे शरीर का इस प्रक्रिया में शामिल होना होता है, क्‍योंकि अब आपके लिए यह कोई पुरानी और रोजमर्रा काम नहीं बल्कि कुछ नया करना होता है। ऐसे में पेनिस और वेजिना के साथ-साथ दिमाग को भी टास्‍क मिल जाता है। इसलिए, सेक्‍स करने के बाद बहुत ही अच्‍छी भावनाएं आती हैं जो सारा दिन बेहतर बना देती हैं।

 

Read more about: sex, सेक्‍स
English summary
Unfortunately, not many people talk and write about it that is why now we will have a good at it and as they say, we will make it loud and simple.
Story first published: Thursday, April 6, 2017, 14:16 [IST]
Please Wait while comments are loading...