•  

6 बातें जो महिलाऐं कभी सुनना पसंद नहीं करती

Women
 
अगर आप अपने साथी से बेहतर दामपत्‍य जीवन की उम्‍मीद करतें है तो आपको भी इसके लिए थोड़ा तैयार होने की जरूरत है। क्‍योंकि कभी भी कोई रिश्‍ता एकतरफा कोशिश से सफल नहीं हो सकता है। महिलाऐं अपने साथी कि छोटी से छोटी कही हुई बातों पर पूरा ध्‍यान देतीं और उन बातों में कई बातें ऐसी भी होतीं है जिसे पति मजाक में या फिर यूहीं बोल देता है जिसके परिणाम स्‍वरूप रिश्‍तें में दरार पड़ने का डर होता है। आज हम आपको अपने इस लेख में इस बारें में बताऐंगे कि वो कौन सी बातें है जो कि महिलाऐं अपने पति से कभी भी सुनना पसंद नहीं करती है।

6 बातें जो महिलाऐं कभी सुनना पसंद नहीं करती:

तुम्‍हारा वजन बढ़ गया है: महिलाऐं अपने सौन्‍दर्य और फिगर को लेकर काफी सचेत रहती है और वो यदि न भी रहें तो वो इस बात को सुनना कभी भी पसंद नहीं करती है कि उन्‍हे अपने फिगर की परवाह नही है। आपकी साथी कई बार अपने फिगर को लेकर आपसे सवाल करती होंगी लेकिन आप कभी भूले से भी इन शब्‍दों को अपने मूंह से बाहर न निकाले क्‍योंकि यह शब्‍द आपके लिए कई अन्‍य प्रश्‍नों को खड़ा कर देंगे। जैसे कि अब तुम्‍हें मुझसे प्‍यार नहीं है, अब तुम मुझे पसंद नहीं करते आदि।

तुम्‍हारी मां तुमसे ज्‍यादा खुबसूरत है:
वैसे तो किसी भी लड़की के दुनिया में उसके मां से ज्‍यादा बेहतर और कोई दूसरी महिला नहीं होती है। लेकिन यदि बात आ जाये सौन्‍दर्य की प्रतिस्‍पर्धा की और वो भी तब जब उसका साथी ही इस बात को कहे कि उसकी मां उससे ज्‍यादा खुबसूरत है। तो स्थिती भयावह हो सकती है। आप कभी भी अनजानें में भी इस तरह की बातें अपने साथी से न करें।

तुम्‍हारे पिता तुम्‍हे लेकर कुछ ज्‍यादा ही चिंतित रहतें है: आपको बता दें कि हर लड़की के लिए उसका पिता एक सूपर हिरो के तरह होता है। दुनिया में वो अपने पिता के खिलाफ किसी भी मामले में अपनी राय को गलत नहीं रखती है। कई बार पुरूष अचानक ही अपने साथी से ऐसी बातों को कह देता। इसलिए कभी भी अपने साथी के सामने उसके पिता से कोई प्रतिस्‍पर्धा करने की कोशिश न करें निश्‍चय ही आपको अपने हाथ खड़े करने पड़ जायेंगे। क्‍योंकि आपकी साथी के लिए उसका पिता हमेशा एक परफेक्‍ट इंसान होता है और वो उनके लिए हमेशा लाडली। हो सकता है कि आप इन बातों से ताररूख न रखें लेकिन यकीन मानिए जब आप एक बेटी के बाप हो जायेंगे तो आप इस बात को आसानी से समझ जायेंगे।

मेरी मां तुमसे अच्‍छा खाना बनाती है: तुलना एक ऐसा शब्‍द होता है जो कि कई बार रिश्‍तों में खटास पैदा कर देता है। दुनिया में बहुत से लोग ऐसे होतें है जो मानतें है कि उनकी मां दुनिया में सबसे बेहतर खाना बनाती है। इसमें कोई दो राय नहीं है कि ऐसा न होता हो। लेकिन यदि बात आप अपने साथी से कहेंगे तो उन्‍हे लगेगा कि वो आपके लिए इतना छोटा सा भी काम नहीं कर सकती। य‍ह सच है कि मां के हाथों के खानें का दुनिया में कोई जोड़ नहीं होता है लेकिन यह भी जरूरी नहीं है कि इसका ढि़ढोरा पिटा जाये।

यह ड्रेस तुम पर फभती नहीं है:
कई बार आपका साथी आपके सामने ऐसे ड्रेस में गया होगा जो ड्रेस आपको पसंद न आती हो। इस दौरान आप हमेशा इस बात का ध्‍यान रखें कि कभी भी भूल कर भी साथी के कपड़ो को खराब न कहें। आपका साथी कभी भी इस बात को बर्दाश्‍त नहीं करेगा क्‍योंकि वो आपके इस बात को ऐसे लेगा जैसे कि खामी ड्रेस में नहीं बल्कि उसी में है। यह एक महिलाओं का लॉजिक है जिसे पुरूष का समझना शायद नामूनकिन है। तो बेहतर होगा कि आप ऐसे बिन्‍दूओं पर झगड़ने के बजाये ऐसे बिन्‍दूओं से किनारा कसे।

हम अभी बच्‍चा एफोर्ड नहीं कर सकतें है: आज कल के समय में मिया बीवी के बीच यह बात आम हो गई है। दोनों पक्ष अपने भविष्‍य में होने वाले बच्‍चे को लेकर झगड़ पडते है। कभी-कभी इस दौरान पति के मुंह से यह बात भी निकल पड़ती है कि अभी हम बच्‍चा एफोर्ड नहीं कर सकतें है। आपको बता दें कि ये बातें आपके साथी के दिल को गहरा ठेस पहुंचा सकती है क्‍योंकि अब वो केवल आपकी पत्‍नी ही नहीं वरन अब वो एक मां बनने के सपने संजोने लगी है। तो बेहतर है कि ऐसे मुद्दो पर शब्‍दों के बाण चलाने के अलावा आप इस विषय पर शान्‍ती से बैठकर बात करें। लेकिन कभी भी इस बात को अपने साथी से न कहें। इसके पिछे कारण यह है कि अपका साथी तत्‍काल आपके बारें में गलत राय बना लेगा कि शायद आप अपनी जिम्‍मेदारियों से भागने वाले इंसान हो।

English summary

 Women don't like being told certain touchy things and more often than not, these 'thing' are true. However if you are to avoid unpleasantness in a relationship, all truths cannot be told. So if a man refrains from bringing up some insecurities related to girly things then a lot of problems in a relationship just disappear. You need to use words in a relationship with caution; they are like arrows, once shot they cannot be brought back. Here are some some the truths (or half truths) that women don't like being told.
Story first published: Tuesday, December 27, 2011, 10:42 [IST]

Get Notifications from Hindi Indiansutras

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Indiansutras sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Indiansutras website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more